राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे सिंधिया ने अपनी चुप्पी तोड़ी

0
वसुंधरा राजे ने कहा कि जब राज्य कोरोना महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहा है, जब राज्य में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार बढ़ रहे हैं. किसानों के खेतों पर टिड्डियों का हमला हो रहा है जिससे उन्हें का काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है.विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप लगाने को कहा कि कांग्रेस अपने घर की लड़ाई में बीजेपी को ना घसीटे, राजे ने ट्विटर पर बयान जारी कर कहा कि “यह दु्भाग्यपू्र्ण हैं कि राजस्थान की जनता को कांग्रेस की अंदरुनी कलह की कीमत चुकानी पड़ रही है.”ऐसे समय में जब राज्य में कोरोनावायरस के चलते 500 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जब किसानों की खेती पर टिड्डियों की हमला हो रहा है. ऐसे समय में जब राज्य में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार चरम पर है. ऐसे समय में जब राज्य में बिजली का भीषण संकट देखने को मिल रहा है. अभी तो मैंने कुछ ही समस्याओं को गिनाए हैं जिनका राजस्थान की जनता सामना कर रही है. इसमें बीजेपी को बीच में खींचना और बीजेपी नेताओं पर कीचड़ उछालने का कोई मतलब नहीं है.”आपको बता दें कि राजस्थान में जारी सियासी संग्राम अब हाईकोर्ट में पहुंच गया है. सचिन पायलट और अन्य बागी विधायकों को कांग्रेस की ओर से अयोग्य ठहराए जाने संबंधी नोटिस पर चुनौती देने वाली याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में सोमवार को फिर से सुनवाई की जाएगी. नोटिसों पर प्रस्तावित कार्रवाई मंगलवार तक  बढ़ा दी गई है.

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »