सोनीपत में ऑर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल के 10वीं कक्षा के छात्र साहिल रावत ने भारत का गौरव बढ़ाया

0
13

सोनीपत, 10 जून 2024 –आर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल के सोनीपत कैंपस के 10वीं कक्षा में पढ़ने वाले साहिल रावत, ने श्रीलंका टेबल टेनिस एसोसिएशन द्वारा आयोजित प्रतिष्ठित साउथ एशियन टेबल टेनिस एकेडमी चैंपियनशिप में दो स्वर्ण पदक हासिल किए। साहिल ने यह दोनों गोल्ड मेडल अंडर 15 टीम्स और अंडर 15 डबल्स की श्रेणी में हासिल किए। उन्होंने 2024 में होने वाली वर्ल्ड टेबल टेनिस चैंपियनशिप में क्‍वॉलिफाई कर लिया है। वह 16 जून 2024 को पेरू में ग्लोबल फोरम पर होने वाली टेबल टेनिस प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।

साहिल कई दक्षिण एशियाई देशों के प्रतियोगियों के बीच विजेता बनकर उभरे। इनमें बांग्लादेश, भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और द मालदीव्स के खिलाड़ी शामिल थे। उन्होंने दक्षिण एशियाई टेबल टेनिस एकेडमी चैंपियनशिप में असाधारण कौशल और दृढ़ता का प्रदर्शन किया, जिससे इस खेल में उनकी कड़ी मेहनत और प्रतिबद्धता की झलक मिली।साहिल आठ वर्षों से लगातार टेबल टेनिस की प्रैक्टिस कर रहे हैं।उनका लक्ष्य ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करना और ओलंपिक स्‍पोर्ट्स में देश के लिए मेडल जीतना है। अपने टेबल टेनिस कॅरियर में साहिल ने अब तक दो इंटरनेशनल और 15 से ज्यादा नेशनल मेडल हासिल किए हैं। इंटरनेशनल चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करने से उत्साहित साहिल ने कहा, मैं वर्ल्ड टेबल टेनिस चैंपियनशिप्स में अपने देश की अगुवाई करने का अवसर पाकर बहुत प्रसन्न हूं। उन्होंने कहा मैं अपने कोच, आर्किड्स इंटरनेशनल स्कूल और अपने माता-पिता का बेहद आभारी हूं, जिन्होंने टेबल टेनिस में मेरे सफर को आगे बढ़ाने में सहयोग देने में सामूहिक रूप से महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने मुझे बेहतरीन प्रदर्शन और लक्ष्य हमेशा ऊंचा रखने के लिए प्रेरित किया।

इस अवसर पर सोनीपत स्थित ऑर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल रोमिता शर्मा ने साहिल की उपलब्धि आर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों समेत पूरे देश भर के स्टूडेंट्स के लिए प्रेरणा है। साहिल पेरू में 16 जून 2024 को होने वाली वर्ल्ड टेबल टेनिस चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।ऑर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल का प्रतिनिधित्व करते हुए एकेडेमिक्स और स्पोर्ट्स के वीपी पीयूष रंजन राय ने कहा, “ऑर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल में हमारा मानना है कि शिक्षा केवल किताबी ज्ञान नहीं है। इसका दायरा उससे कहीं अधिक बड़ा है। स्पोर्ट्स को ध्यान में रखकर हमारा नया सिलेबस छात्रों में आलोचनात्मक सोच का विकास करता है। इससे उनमें खेल भावना पनपती है।हम छात्रों में रचनात्मकता की संस्कृति का विकास करते हैं और सभी प्रयासों के लिए अपने छात्रों के समर्पण की सराहना करते हैं।ऑर्किड्स द इंटरनेशनल स्कूल अपने हरेक छात्र में हर तरह के चैंपियन की प्रतिभा की खोज के लिए प्रतिबद्ध है। स्कूल छात्रों की प्रतिभा के विकास के लिए समर्पित है।