राजस्थान संस्था संघ द्वारा दिल्ली में राजस्थान स्थापना दिवस का भव्य आयोजन साहित्यिक सम्मान से नवाजा गया डॉ.कुसुम लुनिया को

0

दिल्ली में प्रवासी राजस्थानियों की फ़ेडरेशन राजस्थान संस्था संघ द्वारा नई दिल्ली के जंतर मन्तर के पास एन डीएमसी कन्वेन्शन सेंटर में राजस्थान स्थापना दिवस का भव्य आयोजन किया गया।
संस्था के अध्यक्ष सुरेश खंडेलवाल ने बताया कि समारोह के मुख्य अतिथि लोकसभा श्रद्धेय शंकराचार्य जी और विशिष्ट अतिथि केन्द्रीय मंत्री श्री पीपी चौधरी वरिष्ठ नेता श्याम जाजू और उत्तरप्रदेश के मंत्री नन्द कुमार नन्दी ,नाईजीरिया के राजदूत एवं उत्तर दिल्ली के महापौर जयप्रकाश जेपी ने भागलिया।संस्था के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नवरत्न अग्रवाल ने बताया कि समारोह प्रमुख समाजसेवी श्याम सुंदर अग्रवाल और राम कैलाश गुप्ता भी थे।संस्था के महामन्त्री के के नरेडा ने बताया कि इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली प्रतिभाओं को सम्मानित किया जिसमे साहित्य के क्षेत्र में बेजोड़ काम के लिए राजस्थान की बेटी डॉ.कुसुम लुनिया को शाल, पटका, गुलदस्ता व प्रतीक चिन्ह से मुख्य अतिथी ,विशिष्ट अतिथी ,संस्था अध्यक्ष,डॉ. धनपत लुनिया व संयोजक द्वय द्वारा नवाजा गया।
कार्यक्रम संयोजक गौरव गुप्ता और जी एन भट्ट ने बताया कि इस मौके पर मनोहारी सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ।
समारोह में स्वास्थ्य मन्त्रालय के विशेषधिकारी डॉ सर्वेश टंडन, जाने माने पत्रकार फ़र्स्ट इंडिया के सीएमडी जगदीश चंद्र, नोएड़ा फ़िल्म सिटी के संस्थापक सन्दीप मारवाह,ई टीवी भारत के स्टेट हेड विशाल सूर्यकांत शर्मा,राजस्थान अस्पताल जयपुर के डॉ एस एस अग्रवाल, प्रमुख समाज सेवी राम अवतार क़िला,डॉ रमेश अग्रवाल,प्रशासनिक क्षेत्र में केरल के मुख्य सूचना आयुक्त डॉ विश्वास मेहता, राजस्थान फ़ाउंडेशन के आयुक्त धीरज श्रीवास्तव,वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के के खंडेलवाल, सयुंक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार और निशी सिंह, पुलिस उपायुक्त सुरेन्द्र चौधरी, साहित्य के क्षेत्र में डॉ कुसुम लुनिया, कला संस्कृति के लिए वीणा संगीत के हेमजीत मालू , निशानेबाज़ अपूर्वी चंदेल,शिक्षा के क्षेत्र में वी पी टण्डन, सचिन गुप्ता,प्रकाश शर्मा,उध्यमिता एवं समाज सेवा के लिए डॉ नरेश चंद माहेश्वरी , नीरज अजीत जैन,डॉ मनसुखभाई के शाह,विजय डाटा और सुनीता गुप्ता आदि को सम्मानित किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.