सैमसंग ने पेश किया ‘सैमसंग दोस्त’, भारत का सबसे बड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र का स्किल प्रोग्राम; एनएसडीसी के साथ की साझेदारी; 50,000 युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य

0

सैमसंग इंडिया ने आज ‘सैमसंग दोस्त’ (डिजिटल एवं ऑफलाइन स्किल ट्रेनिंग) की शुरुआत की घोषणा की है। यह एक सीएसआर पहल है जिसका लक्ष्य अगले कुछ वर्षों में 50,000 युवाओं को इलेक्ट्रॉनिक्स रिटेल सेक्टर में नौकरी के लिए तैयार करना है। भारत के सबसे बड़े स्मार्टफोन और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांड सैमसंग ने अपने देश भर में मौजूद कौशल प्रशिक्षण केंद्रों के माध्यम से प्रोग्राम को आगे बढ़ाने के लिए भारत के प्रमुख कौशल विकास संगठन, नेशनल स्किल डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन(एनएसडीसी) के साथ साझेदारी की है।

सैमसंग दोस्त इलेक्ट्रॉनिक्स सेक्टर में सबसे बड़ा स्किल ट्रेनिंग प्रोग्राम होगा।

सैमसंग पिछले 25 वर्षों से भारत का एक भरोसेमंद भागीदार रहा है। मैन्युफैक्चरिंग, आरएंडडी, रिटेल और कम्युनिटी डेवलपमेंट में भारी निवेश के साथ सैमसंग कंज्यूमर ड्यूरेबल और स्मार्टफोन के क्षेत्र में अग्रणी कंपनी है। सैमसंग ने नोएडा में दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री की स्थापना की है। इसके साथ ही सरकार द्वारा इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग को दिए जा रहे प्रोत्साहन में सैमसंग एक प्रमुख भागीदार भी है। सरकार के इस प्रयास से मैन्युफैक्चरिंग के साथ-साथ रिटेल सेक्टर में युवाओं के लिए रोजगार के बड़े अवसर पैदा होने की उम्मीद है। कौशल प्रशिक्षण के बाद रोजगार सृजन की संभावना को ध्यान में रखते हुए, सैमसंग ने ‘सैमसंग दोस्त’ कार्यक्रम के लिए एनएसडीसी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके तहत युवाओं को 200 घंटे का क्लासरूम और ऑनलाइन प्रशिक्षण प्राप्त होगा। इसके बाद सैमसंग रिटेल स्टोर्स पर पांच महीने की ऑन-द-जॉब ट्रेनिंग (OJT) मिलेगी। इस दौरान ट्रेनिंग के साथ ही इंडस्ट्री के स्टैंडर्ड के अनुसार प्रशिक्षर्थी को मासिक वेतन भी मिलेगा। इससे युवाओं को भारत के तेजी से बढ़ते इलेक्ट्रॉनिक्स रिटेल क्षेत्र में नौकरियों के लिए जरूरी योग्यता और स्किल प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

यह ट्रेनिंग नेशनल स्किल क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क के अनुसार होगी। यह फ्रेमवर्क इंडस्ट्री की जरूरतों के अनुरूप है, और इसमें ग्राहक से संपर्क, सेल्स काउंटर को मैनेज करने, ग्राहक के प्रश्नों के जवाब देना, प्रोडक्ट का प्रदर्शन करना और सेलिंग स्किल और कई अन्य सॉफ्ट स्किल जैसे कि कोविड के बाद अपनाए जाने वाले शिष्टाचार आदि शामिल होंगे। इन सभी के जरिए ट्रेनिंग का उद्देश्य युवाओं को इलेक्ट्रॉनिक्स रिटेल में करियर के लिए तैयार करना है। OJT के दौरान, प्रतिभागियों को रिटेल स्टोर की वास्तविक परिस्थिति से परिचित करना, रोल प्ले तकनीक और व्यावहारिक प्रशिक्षण के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक्स रिटेल स्टोर के कामकाज से परिचित कराया जाएगा।

सैमसंग विभिन्न राज्यों में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई) और तकनीकी शिक्षा विभागों के साथ साझेदारी में 2013 से सैमसंग टेक्निकल स्कूल प्रोग्राम चला रहा है। इस कार्यक्रम के तहत युवाओं को नवीनतम स्मार्टफोन, टेलीविजन, रेफ्रिजरेटर, वाशिंग मशीन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक्स की मरम्मत के लिए व्यावसायिक कौशल प्रदान किया जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.