5वीं एलीट महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप का गुरुवार से हिसार में आगाज, बड़े नामों में सिमरनजीत और पूजा रानी शामिल

0

हरियाणा बॉक्सिंग संघ के सहयोग से आयोजित होने वाले प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में देश भर के 36 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों औऱ बोर्डों के 320 से अधिक मुक्केबाज हिस्सा ले रहे हैं। पंजाब की सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) और हरियाणा की पूजा रानी (81 किग्रा) के अलावा 2019 में आयोजित विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली जमुना बोरो (54 किग्रा), गत चैंपियन पविलाओ बसुमतारी (60 किग्रा) और एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली जैस्मीन (60 किग्रा) को खिताब के लिए प्रतिस्पर्धा करते हुए देखा जा सकेगा।  27 अक्टूबर तक खेले जाने वाले इस टूर्नामेंट में मौजूदा युवा विश्व चैम्पियन मणिपुर की बेबीरोजिसाना नोरेम (54 किग्रा), सनमाचा थोकचोम (75 किग्रा) और राजस्थान की अरुंधति चौधरी (70 किग्रा) भी एक्शन में नजर आएंगी।

चैंपियनशिप मुक्केबाजी की वैश्विक नियामक संस्था-एआईबीए के 12 भार वर्गों के अनुसार खेली जाएगी। ये भार वर्ग हैं- 48 किग्रा, 50 किग्रा, 52 किग्रा, 54 किग्रा, 57 किग्रा, 60 किग्रा, 63 किग्रा, 66 किग्रा, 70 किग्रा, 75 किग्रा, 81 किग्रा और +81 किग्रा। इस चैंपियनशिप के स्वर्ण और रजत पदक विजेता राष्ट्रीय कोचिंग शिविर में स्थान अर्जित करेंगे। प्रत्येक श्रेणी में शिविर के लिए शेष दो नामों का चयन सेलेक्शन ट्रायल में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जाएगा, जो कि इस प्रतियोगिता के ठीक बाद आयोजित होगा। ट्रायल्स में, कांस्य पदक विजेता पिछली राष्ट्रीय चैंपियनशिप-रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी), हरियाणा और अखिल भारतीय पुलिस की शीर्ष -3 टीमों की दूसरी टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले मुक्केबाजों के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे।
साल 2019 में केरल के कन्नूर में आयोजित चैंपियनशिप के पिछले संस्करण में, रेलवे स्पोर्टस प्रोमोशन बोर्ड ने छह स्वर्ण पदक के साथ टीम चैंपियनशिप का खिताब जीता था, जबकि हरियाणा उपविजेता रहा था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.