मूवी रिव्यू: डॉक्टर जी

0
185

ऐक्टर: आयुष्मान खुराना,रकुलप्रीत सिंह,शेफाली शाह,शीबा चड्ढा

डायरेक्टर : अनुभूति कश्यप

श्रेणी:Hindi, कॉमेडी, ड्रामा

अवधि:2 Hrs 4 Min

 रेटिंग : 3.5/5

अपनी ‘बरेली की बर्फी’, ‘बधाई हो’ और ‘शुभ मंगल सावधान’ जैसी फिल्मों से लीक से हटकर विषयों पर बनी कॉमेडी फिल्मों से अपनी अलग पहचान बनाने वाले आयुष्मान खुराना एक बार फिर लीक से हटकर विषय पर बनी फिल्म ‘डॉक्टर जी’ में मजेदार कॉमेडी से न सिर्फ दर्शकों को गुदगुदाते हैं, बल्कि इसके माध्यम से जिंदगी के सबक भी सिखाते नजर आते हैं।

कहानी
फिल्म की कहानी के मुताबिक, डॉक्टर उदय गुप्ता (आयुष्मान खुराना) भोपाल से मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है। वह अपनी मां लक्ष्मी देवी (शीबा चड्ढा) के साथ रहता है, जबकि उसके पिता उसके पैदा होने से पहले ही गुजर चुके हैं। बचपन से उदय का सपना अपने कजिन भाई की तरह ऑर्थोपेडिक डॉक्टर बनने का है, लेकिन रैंक कम आने के चलते उसे गाइनेकॉलजी ब्रांच लेनी पड़ती है। हाल ही में अपनी पहली गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप के बाद मेडिकल कॉलेज पहुंचे उदय की मुलाकात फातिमा (रकुलप्रीत सिंह) से होती है। हालांकि, फातिमा की शादी पहले से ही आरिफ से तय हो चुकी होती है, बावजूद इसके उदय उसको चाहने लगता है। हालांकि उदय की ऑर्थोपैडिक ब्रांच लेने की चाहत अभी भी कम नहीं होती और वह अगले साल ज्यादा नंबर लाकर गाइनेकॉलजी से निकलने की तैयारियों में जुटा रहता है। लेकिन उसकी सीनियर डॉक्टर नंदिनी श्रीवास्तव (शेफाली शाह) उसे गाइनेकॉलजी में मेहनत करके इसी में अपना फ्यूचर बनाने की सलाह देती है। गर्लफ्रेंड और करियर की चुनौतियों से जूझ रहा उदय घर पर अपनी मां से भी परेशान रहता है, जो कि अकेलेपन के चलते कभी यूट्यूब चैनल पर रेसिपी के विडियो अपलोड करती है, तो कभी डेटिंग वेबसाइट पर अपने लिए साथी तलाशती है। इसी बीच उसकी जिंदगी में एक भूचाल आता है, जो कि उसे पूरी तरह बदल देता है।

क्यों देखें फिल्म ‘डॉक्टर जी’
अगर आप फेस्टिवल सीजन में बढ़िया कॉमेडी फिल्म इंजॉय करना चाहते हैं, तो सिनेमा में ‘डॉक्टर जी’ से मिलने का टिकट कटा लें।