आगामी बेंगलुरू टेक समिट 2023 की तैयारियों पर चर्चा के लिए टेक्‍नोलॉजी की दुनिया के दिग्गज नई दिल्ली में एकजुट हुए

0
70

बेंगलुरु टेक समिट (बीटीएस) के 26वें संस्करण के आयोजन की तैयारियों के सिलसिले में, आज उद्योग के हितधारकों ने कर्नाटक सरकार में आईटी, बीटी और आरडीपीआर मंत्री श्री प्रियांक खड़गे के साथ एक खुली वार्ता का आयोजन किया। इस इवेंट में आईटी, डीपटेक, इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स, सेमीकंडक्टर्स, टेलीकॉम, एनिमेशन, ईवी और गेमिंग जैसे कई क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रमुख औद्योगिक संगठनों ने भाग लिया। इस विचार-विमर्श के दौरान 10 से ज्यादा देशों के ट्रेड मिशन और प्रमुख आरएंडडी संस्‍थान के प्रमुख मौजूद थे।

यह कार्यक्रम सीमाओँ को लांघकर आगे बढ़ने के केंद्रीय विषय के साथ भारत को तकनीकी बदलाव के अग्रिम मोर्चे पर स्थापित करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम होगा। इस बैठक को भारत के सॉफ्टवेयर टेक्‍नोलॉजी पार्क्स के डायरेक्‍टर जनरल श्री अरविंद कुमार; कर्नाटक सरकार में इलेक्ट्रॉनिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी, बायोटेक्‍नोलॉजी, और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, विभाग में सरकार की सचिव और आईएएस डॉ. एकरूप कौर ने बेंगलुरु में सॉफ्टवेयर टेक्‍नोलॉजी पार्क्स ऑफ इंडिया के डायरेक्‍टर श्री शैलेंद्र त्यागी; कर्नाटक सरकार में केआईटीएस के प्रबंध निदेशक, इलेक्ट्रॉनिक्स, आईटी, बीटी विभाग के डायरेक्‍टर और आईएएस श्री दर्शन एच.वी; बीटीएस के इवेंट क्यूरेटर एवं एमएम एक्टिव के एक्‍जीक्‍यूटिव चेयरमैन श्री जगदीश पाटनकर ने भी संबोधित किया।

आईटीई और डीपटेक ट्रैक में डिजिटल इंडिया का दुनिया भर में विस्तार होने, फिनटेक और वित्त व्यवस्था के विकेंद्रीयकरण, फ्यूचर मोबिलिटी, स्पेसटेक, भारत में जीसीसी पर फोकस, ईएसडीएम, 5जी, 6 जी और इससे आगे की तकनीक, टेक क्षेत्र में एआई की उपस्थिति, क्‍वॉन्‍टम कंप्यूटिंग तथा गेमिंग और ई-स्पोटर्स पर कुछ दिलचस्प सेशन होंगे। बायोटेक ट्रैक बायोटेक सेक्टर का विशेष ट्रैक है। बायोटेक ट्रैक बायोटेक सेक्‍टर के लिए एक विशेष ट्रैक है जिसमें कई महत्वपूर्ण क्षेत्रों जैसे, जीवाश्म कार्बन मुक्त भविष्य के लिए बायो टेक्नोलॉजी, सिंथेटिक बायोलॉजी, खाद्य और एग्री सिस्टम्स के स्थायित्व, भविष्य में होने वाली बीमारियों से बचाव, जैव विविधता और आयुष, महामारी को दूर रखने, बायोटेक में निवेश, कौशल विकास, नीति और नियामकों और आगे आने वाले भविष्य को ध्यान में कई सेशन आयोजित किए जाएंगे। अगले दो सालों में होने वाले संस्करणों की तारीख की भी घोषणा कर दी गई है – 2024 और 2025 में यह इवेंट 19 से 21 नवंबर तक आयोजित किया जाएगा। अगले दो साल में होने वाले संस्करण की जल्दी घोषणा से अंतरराष्ट्रीय तकनीकी संगठनों को अपनी भागीदारी की पहले से योजना बनाने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। यह कर्नाटक सरकार की इस सेक्टर के विकास के लिए लगातार जारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here