प्रगति विचार साहित्य महोत्सव 2024 एक यात्रा मानसिक स्वास्थ्य, शांति और स्थायित्व की ओर

0
69

प्रगति विचार साहित्य महोत्सव (पीवीएलएफ) के तीसरे संस्करण ने एक प्रशंसापूर्ण सफलता हासिल की, जिसने 320ा़ से अधिक वोट्स का एक अद्वितीय रिकॉर्ड बनाया। यह छ: दिवसीय महोत्सव 11 फरवरी 17 फरवरी को नई दिल्ली वर्ल्ड बुक फेयरए प्रगति मैदान में आयोजित हुआ था जिसमें किताबों के शौकीनों, लेखकों, और इंडस्ट्री पेशेवरों का एक विविध समूह सम्मिलित हुआ।

इस बार राष्ट्रीय बुक ट्रस्ट एनबीटी, द्वारा जारी की गई दिशानिर्देशों के अनुसार हमें खुशी है कि हमने मानसिक स्वास्थ्य, शांति, और स्थायिता के विषय पर नई दिल्ली वर्ल्ड बुक फेयर में इस छह. दिवसीय महोत्सव को आयोजित किया। महोत्सव में 100़ से भी अधिक लेखकों ने भाग लिया, इस उत्सव में इन लेखकों ने 15 से ज्यादा विषयों पर 40 से भी अधिक सत्रों में विस्तृत चर्चा की और मानसिक स्वास्थ्य के विभीन्न पहलूओं पर अपने विचार रखे। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण पीवीएलएफ ऑथर्स मैराथन रहा जिसके अंतर्गत प्रसिद्ध लेखकों और नवोदित प्रतिभाओं को मानसिक स्वास्थ्य से लेकर स्थिरता तक के विषयों पर प्रेरक बातचीत में शामिल होते देखा गयाए जिससे विचारोत्तेजक चर्चाएं हुईं। श्रोताओं ने इस उत्सव के दौरान श्री शिव खेड़ा, सुश्री अमीगंत्रा कर्नल आरएसएन सिंह श्री कपिल कुमार और सुश्री सागरिका चक्रवर्ती सहित अन्य प्रसिद्ध हस्तियों के विचारों का भरपूर आनंद लिया। पुस्तक ‘इनमाईहेडÓ का विमोचन, लेखक कपिल गुप्ता और अटलांटिक पब्लिशर्स द्वारा प्रकाशित एजर्नी इन टूमेंटलवेलनेस यह महोत्सव 11 फरवरी को श्री कपिल गुप्ता की पुस्तकए इनमाईहेड एहोलिस्टिक गाइड टूमेंटलवेलनेस के बहुप्रतीक्षित लॉन्च के साथ शुरू हुआ। सोलवेलनेस, फ्रंटलिस्ट मीडिया और ओएम लॉजिक के संस्थापक श्रीगुप्ता की यह पुस्तक हमारे मानसिक स्वास्थ्य को गहराई से समझने में मदद करती है, जीवन की चुनौतियों को सहनशीलता से पार करने के लिए व्यावहारिक उपाय और दृष्टिकोण प्रदान करती है। यह पुस्तक उत्सव की थीम ‘सैनिटी सेरेनिटी सस्टेनेबिलिटी के अनुरूप है जो तेजी से तनाव और चिंता से जूझ रही दुनिया में मानसिक कल्याण के महत्व पर जोर देता है।