शार्क टैंक इंडिया 3 : भविष्‍य के शतरंज चैम्पियंस बनाने के लिये जुडि़ये क‍ाबिल किड्स से, एक बार में एक चाल!

0
105

सुनील रैना और किट्टी महापात्रा के नेतृत्व में काबिल किड्स 5 से 15 साल के बच्चों के लिए अपने ऑनलाइन चेस ट्रेनिंग प्‍लेटफॉर्म के माध्यम से घर के आरामदायक माहौल में शतरंज सीखना आसान और किफायती बना रहा है। भारत के 11वें शतरंज ग्रैंड मास्टर और कॉमनवेल्‍थ गोल्‍ड मेडलिस्‍ट श्री तेजस बकरे के साथ प्रसिद्ध बाल मनोवैज्ञानिक प्रियंका बख्शी के मार्गदर्शन में, काबिल किड्स का लक्ष्य शतरंज सीखने के उत्‍सुक लोगों के भविष्य में क्रांति लाना है। काबिल किड्स की टीम ने हाल ही में शार्क टैंक इंडिया 3 के मंच पर कदम रखा और इसी के साथ उन्‍होंने अगले 5 वर्षों में शतरंज को शीर्ष 5 खेलों में शामिल करने के अपने दृष्टिकोण को स्‍पष्‍ट किया।

क‍ाबिल किड्स के फाउंडर और सीईओ सुनील रैना ने कहा, ‘‘काबिल किड्स ने शार्क टैंक के पूरे सफर के दौरान बहुत ज्‍यादा लोकप्रियता और मार्गदर्शन प्राप्‍त किया। हमारी पिच इस तरह से तैयार की गई थी कि ये पैरेंट्स के साथ जुड़ाव बनाते हैं। काबिल किड्स के सफर की शुरूआत 2019 में हुई थी, जब एक जिला-स्‍तरीय शतरंज खिलाड़ी सुनील ने शतरंज का प्रशिक्षण देना शुरू किया। फरवरी 2020 में इसकी सह-संस्‍थापक के रूप में किट्टी इसके साथ जुड़ीं। ऑनलाइन चेस ट्रेनिंग प्‍लेटफॉर्म एक अनूठी शैक्षणिक पद्धति पर‍ बनाया गया है, जिसका लक्ष्‍य भविष्‍य के होनहारों का निर्माण करना है। काबिल किड्स का पाठ्यक्रम सिर्फ शतरंज में महारत हासिल करने पर ही केन्द्रित नहीं है, बल्कि बच्‍चों में आवश्‍यक जीवन कौशल जैसे कि महत्‍वपूर्ण सोच, समस्‍या-समाधान, सहयोग, संचार और निर्णय लेने की क्षमता का विकास करता है। एफआईडीई (फाइड)-सर्टिफाइड ट्रेनर्स की एक समर्पित टीम के साथ बच्‍चे न सिर्फ शतरंज एक्‍सपर्ट के रूप में तैयार होते हैं, बल्कि उन्‍हें राज्‍य स्‍तरीय, राष्‍ट्रीय एवं अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तरों पर विभिन्‍न टूर्नामेंट्स में शानदार प्रदर्शन करने का आत्‍मविश्‍वास भी मिलता है।

सीजन 3 के हाई-स्टेक मंच पर 2% इक्विटी हिस्सेदारी के लिए 70 लाख रूपये की मांग की। बहुत ज्‍यादा मोल-भाव के बाद उन्‍हें शार्क्‍स नमिता थापर और अमन गुप्‍ता से 2.5% की हिस्‍सेदारी के बदले 50 लाख रूपये और 20 लाख रूपये के डेट की डील हासिल हुई।