कैंब्रिज इंटरनेशनल द्वारा भारत में 1000 स्कूलों को जोड़ा जाएगा

0
68

कैम्ब्रिज इंटरनेशनल ने भारत और विदेशों में वैश्विक अवसरों की बढ़ती मांग को पूरा करते हुएभारत के विकसित हो रहे शहरों में अंतरराष्ट्रीय शिक्षा पहुँचाने के उद्देश्य से, 1000 स्कूलों के साथ गठबंधन की योजना बनाई हैताकि अगले तीन साल में 500,000 लर्नर्स तक पहुँच सके। भारत में कैम्ब्रिज का इस समय अपने वैश्विक राजस्व में लगभग 10% का योगदान हैजिसमें इस विस्तार के साथ तेजी से वृद्धि होने की उम्मीद है। यह घोषणा हाल ही में कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस एंड असेसमेंट में इंटरनेशनल एजुकेशन के ग्रुप मैनेजिंग डायरेक्टर रॉड स्मिथ द्वारा देश के अपने दौरे के दौरान की गई।

भारत एक महत्वपूर्ण बाजार है और कैम्ब्रिज के बड़े निवेश से यहाँ के लिए इसकी प्रतिबद्धता और विश्वास प्रदर्शित होते हैं। कैम्ब्रिज भारत में प्रारंभिक वर्षों (EY) की शिक्षा को प्राथमिकता दे रहा है। यह संज्ञानात्मकसामाजिकभावनात्मक और शारीरिक विकास पर केंद्रित कार्यक्रमों द्वारा समग्र विकास पर केंद्रित है। इन कार्यक्रमों को वर्तमान में 150 स्कूलों में चलाया गयाजिसकी बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिली। 

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस एंड असेसमेंटदक्षिण एशिया के मैनेजिंग डायरेक्टरश्री अरुण राजमणि ने बताया, “भारत में शिक्षा क्षेत्र का वैश्वीकरण हो रहा है। इस समय अभिभावकों की महत्वाकांक्षाएं अंतरराष्ट्रीय हैं और भारत को भी इसमें शामिल करना चाहती हैं। इसलिएविद्यार्थी उच्च शिक्षा के लिए विभिन्न राज्यों या मुख्य शहरों में शीर्ष विश्वविद्यालयों की ओर जा रहे हैं। इस चुनौती से निपटने के लिए हम देश में अंदर तक विस्तार करना चाहते हैंताकि अधिक लर्नर्स को गुणवत्तापूर्ण अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा आसानी से मिल सके।

कैम्ब्रिज इंटरनेशनल विश्व में शैक्षणिक उत्कृष्टता के स्तंभ के रूप में स्थापित है। कैम्ब्रिज का मानना है कि शिक्षा तभी सबसे ज़्यादा प्रभावशाली होती है जब पाठ्यक्रमशिक्षणशिक्षणसंसाधन और मूल्यांकन तालमेल में हों। कैम्ब्रिज स्कूल लर्नर्स की संस्कृति एवं लोकाचार के अनुरूप पाठ्यक्रम तैयार कर सकते हैं। यहाँ मूल्यांकन ईमानदारवैध और विश्वसनीय होते हैंतथा विषय की गहरी समझसैद्धांतिक ज्ञानऔर उच्च-स्तर पर सोचने के कौशल का आकलन करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। पाठ्यक्रमशिक्षण एवं सीखने और मूल्यांकन में इसकी विशेषज्ञता के कारण दुनिया भर में विश्वविद्यालयों और नियोक्ताओं के बीच कैम्ब्रिज के कार्यक्रम एवं उपाधियाँ मान्यता रखती हैं।

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस एंड असेसमेंट (सीयूपीएंडए) ने कुछ विशेष संस्थानों के साथ रणनीतिक साझेदारी की घोषणा भी की हैताकि उद्योग की अपेक्षाओं के अनुरूप इंगलिश लैंग्वेज की प्रोफ़िशिएन्सी विकसित की जा सके। लैंग्वेज की प्रोफ़िशिएन्सी नौकरी के वैश्विक बाजार में सफलता पाने के लिए महत्वपूर्ण होती जा रही है। इंगलिश लैंग्वेज की प्रोफ़िशिएन्सी के लिए अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त प्राधिकरण के रूप में, CUP&A ने हाल ही में कंपनियों के L&D नेतृत्वकर्ताओं और शिक्षाविदों के साथ गठबंधन किया हैताकि लैंग्वेज स्किल्स के प्रभाव पर चर्चा हो सके और अच्छे रोजगार के अवसर निर्मित हो सकें।